You are here
Home > Story >

Good Morning Motivational Story | काश तुम सुन्दर होते

Good Morning Friends, Today in this article you will get to see a motivational story in Hindi. This story will inspire you for your better future.

चाणक्य काश आप खूबसूरत होते…
एक बार की बात है जब चन्द्रगुप्त को मजाक सूझ रहा था तो उन्होंने चाणक्य से कहा चाणक्य काश आप खूबसूरत होते.
चाणक्य ने कहा- राजन किसी भी इन्सान की पहचान उसके रूप से नहीं बल्कि उसके गुणों से ही होती है और यह संसार उसे उसके गुणों के लिए कई सदियों तक याद रखता है.
यह सुन चन्द्रगुप्त बोले- क्या आप मुझे कोई ऐसा उदाहरण देकर समझा सकते हैं जहाँ रूप से अधिक महत्त्व गुण का हो.
चाणक्य ने राजा की यह शर्त स्वीकार कर ली और उनके सामने दो पानी से भरे गिलास प्रस्तुत किये और विनती की दोनों को बारी बारी से पीजिये.
राजा ने दोनों गिलास के पानी को बारी बारी से पी लिया तब चाणक्य ने राजा से पूछा की आपको किस गिलास का पानी पसंद आया.
राजा ने जवाब देते हुए कहा कि मेरी प्यास दुसरे गिलास के पानी से बुझी जिसका पानी ठंडा और तृप्त कर देने वाला था.
चाणक्य ने कहा कि राजन वह पानी मिट्टी के घड़े का था जिसका रूप तो खूबसूरत नहीं लेकिन गुण खूबसूरत हैं, और पहले गिलास का पानी सोने के घड़े का था जो किसी काम का नहीं, यह बात चन्द्रगुप्त को समझ आ गयी कि गुण रूप से ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं.

Leave a Reply

Top